What Is SEO In Hindi – SEO क्या है और कैसे करते है 2020

What Is SEO In Hindi – SEO क्या है और कैसे करते है 2020

What is Seo in Hindi एसईओ क्या हैं, और कैसे काम करता है। क्या आपको पता है Seo क्या हैं, और कैसे किया जाता हैं, अगर नहीं पता तो इस आर्टिकल को पूरा ज़रूर पढ़े।

अगर आप एक नए Blogger हैं, तो आपके दिमाग यह सवाल ज़रूर आया होगा की Seo क्या हैं और कैसे काम करता हैं।

इस Article मैं आपको बताऊंगा की Seo क्या हैं, और एसईओ कैसे किया जाता है।

इस Article में आपको Step by step Seo के बारे में पूरी बेसिक जानकारी दूँगा जो आपको Seo करने और सिखने में काफी मदद मिलेगी।

वैसे तो Seo एक बहुत बड़ा विषय(Topic) यहाँ पर नई-नई Update आते रहते हैं, Algorithms update होते रहते हैं, और Search engine में नए-नए बदलाव होते रहते है।

पर कुछ-कुछ ऐसी चीजें है जो ज्यादा बदलती नहीं है। तो चलिए बात करते हैं Seo के बारे में।

What is seo in hindi


What Is Seo In Hindi – एसईओ क्या है

Search engine optimization (SEO) Organic Search के माध्यम से Website Traffic की Quantity और Quality बढ़ाने की एक प्रक्रिया है।

जब पहली Website Internet के ऊपर बनी तभी इसकी शुरुआत हुई, बाद में इंटरनेट पर और Website बनती गई, बहुत सारी वेबसाइट बनी तो बहुत सारा अलग-अलग Fild का Content बढ़ता गया तो इन content को कैसे पहचाना जाए की कौन-सा Content किस Niche का तो यहीं से शुरुआत हुई Search engine Optimisation(SEO) की।

जब Google की शुरुआत हुईं तब तक लोगों को Seo के बारे चल गया था। Internet के उपर Content आता गया तब तक लोगो को पता चल गया था की Content लोगों तक पोहचना कैसे तो Seo के माध्यम से, Seo ऐसा तरीका हैं, अपने Contet को लोगों तक पहुंचाने का।

Seo शुरू में उतना Complicated नहीं था जितना आज हैं, जब Seo की शुरुआत हुईं तब Content को Search Engine में दिखाना Easy था साथ ही Content को Website को Search engine में Rank करना भी आसान था।

लेकिन आज काफी Competition बढ़ गया हैं, इसीलिए आज Seo काफी महत्वपूर्ण बन गया है। 

अगर आप एक Blogger हैं, और आपको Blogging में Success पाना हैं, तो आपको को Basic seo सीखना होगा और समझना होगा आपको सीखने के साथ-साथ आपको Implement भी करना होगा।

जब आप बेसिक एसईओ सीख जाएंगे तो आप धीरे-धीरे Advance seo भी सीखते जाएंगे।

तो चलिए जानते हैं, Seo को Step by step।

SEO का Full form क्या हैं?

SEO का Full form “Search Engine Optimization”

• What is meaning of Blog Blogging Blogger in Hindi – जाने पूरी जानकरी हिंदी में

• 20 Types of Blogs in Hindi – जानिए हिंदी में ब्लॉग्स के प्रकार

Why Is Seo Important – Seo क्यों ज़रूरी हैं?

हमने उपर Seo kya hai यह जान लिया हैं, अब हम जानेंगे की Seo क्यों ज़रुरी है?

क्या हम Seo किए बिना अपने Blog या Website को Search engine में अच्छे Position में Rank कर सकते हैं, अक्सर ऐसे सवाल लोग पूछते हैं, की हम बिना Seo किए अपने ब्लॉग या वेबसाइट के Content को अच्छे Position पर Rank कर सकते है क्या? तो मेरा जवाब नहीं होगा।

जी हाँ हम बिना Seo किए अपने Content rank नहीं कर सकते है।

अगर हमने एक Blog बनाया और उसमे अच्छे High-quality content भी Publish किए पर हमने हमारे Blog का Seo ही नहीं किया तो हमारे Web-pages Rank नहीं होंगे और हमारा Blog या बनाने का कोई मतलब नहीं रहेगा।

हम Blog इसलिए ही तो बनाते हैं, की लोगों को अच्छा Content मिल सके अच्छी जानकारी लोगों तक पोहच सके लेकिन हमारा Content rank ही नहीं होगा तो हमारा ब्लॉग बनाकर Content publish करने का कोई भी मतलब नहीं रहेगा।

इसलिए हमें Seo करना होगा और Seo के बारे में सीखना होगा।

अगर हमे अपने Blog के Content को Search engine में Rank करवाना हैं, तो Seo करना ही होगा, और Seo के बारे में जानकारी रखनी ही होगी। 

तो चलिए जानते है Seo के बारे में।

Types Of Seo – Seo के प्रकार 

चलिए अब हम जानते हैं, की Seo में कितने प्रकार हैं, और वो कैसे काम करते है। 

  1. On-page Seo
  2. Off-page Seo
  3. Technical Seo

On-page Seo

वैसे तो Seo के बहुत सारे Factors हैं, तो हम उन में से कुछ Basic Factors के बारे में बात करेंगे जो काफी Important होते है।

On-page Seo में सारे Factors को आप Control कर सकते हो। लेकिन Off-page के कुछ Factors को Control नहीं कर सकते। इसीलिए On-page Seo करना बहुत ज़रुरी है।

अगर आप एक नए ब्लॉगर हो तो आपको On-page Seo करना आना चाहिए। तो चलिए देखते हैं, की On-page Seo में कौन से-कौन से Factors आते है।

1. Unique Content 

हमेशा Unique और High-quality content लिखे किसी-का भी Content copy ना करे और Content हमेशा Details में लिखे ताकि User आपका कंटेंट पढ़कर जो यूज़र को जानकारी चाहिए थी वो मिले हो जाए।

आप जिस विषय पर Content लिख रहे हैं, उस विषय के सारे के सारे पॉइंट कवर करने की कोशिश करें। 

2. Keyword Optimization

On-page Seo के हिसाब से बहुत महत्वपूर्ण Factor keyword Optimization। जब हम Content लिखते हैं, तो Content में keyword placement सही तरीके से होनी चाहिए।

सही तरीके से Keyword का इस्तेमाल होना चाहिए ताकि हमारी पोस्ट हमारे Targeted keyword पर Search engin में अच्छे Potion पे Rank हो।

Primary keyword को सही तरीके से सही जगह डालना चाहिए। Primary keyword वो होता हैं, जिस Keyword पर हम अपनी पोस्ट Search engine में Rank करना चाहते है।

तो चलिए देखते हैं, की Keywords की किस तरह  Placement की जाती है।

1. Title में अपने Primary keyword को Add करें।

2. Description में हमारा Primary keyword होना चाहिए अगर Description में शुरुआत में ही Keyword डालने की कोशिश करें।

3. H1 tag में भी हमारा Main keyword primary keyword होना चाहिए।

4. अपने पोस्ट के url में भी Primary Keyword का इस्तेमाल करना चाहिए।

5. हमें हमारे Post में Keyword का सही तरीके से इस्तेमाल करना चाहिए। 

6. Content में ज्यादा Keyword इस्तेमाल ना करे जिससे की Keyword stuffing हो जाए।

7. Article में कीवर्ड्स को Naturally add करें ना की जबरदस्ती add करें।

3. User Friendly Url

हमेशा Url छोटा लिखे और उस में अपने Targeted keyword का इस्तेमाल करें। Url में Date और Numbers का प्रयोग ना करें।

और Url में किसी भी तरीके के Symbols नहीं डाले।

4. Alt tag 

Post में Image का इस्तेमाल करें, और उसमें Alt tag लगाए।

5. Title Tag

Blog post का Title एक महत्वपूर्ण हैं, इसलिए आपको पोस्ट का Title बनाते वक्त ज्यादा ध्यान देना चाहिए, जैसे की Title की Length 50 to 60 characters होनी चाहिए जो Seo के हिसाब से अच्छी है।  

एक अच्छा Attractive title लिखे ताकि आपकी Post Rank होती हैं, तो User आपके Title को पढ़कर आपके पोस्ट पर Click करें और आपकी पोस्ट पढ़े।

अपने पोस्ट के Title में Primary Keyword डाले। हो सके तो Title में Numbers और चालू वर्ष का भी इस्तेमाल कर सकते है।

6. H1 Tag  

Title और Description के बाद जो हमारा Important factor हैं, वो है H1 tag।

H1 tag से हम हमारे Content का Structure पता चलता हैं, और हम H1 tag से Crawler को भी हमारे Content के बारे में बताने की कोशिश करते है।

Article में एक H1 tag दे और उसमें अपना Primary keyword add करें।

7. Description

Description 150 to 160 Characters का ही लिखने की कोशिश करें, ज्यादा बढ़ा Description ना लिखे।

Post का Description Attractive लिखे, क्यों की User को Search engine में आपके पोस्ट दो ही चीजें दीखते हैं, एक आपके Post और दूसरी आपके Post का Description इसलिए Description अच्छा और Attractive लिखे। Description में पोस्ट का Primary keyword डालें।

8. Mobile Friendly Website 

हमारी Website हो या Blog हो वो Mobile friendly होना बहुत ज़रुरी है। अलग-अलग Device पर हमारी Website या Blog सही तरीके से Open होना चाहिए।

User जिस भी Device से Website open कर रहा हैं, उस Device पर User को अच्छा Experience मिलना चाहिए।

आप अपने Blog को Mobile friendly बनाए क्यों की आज Mobile से Internet का इस्तेमाल करने वाले Users की संख्या काफी बढ़ रही हैं, इसलिए आपका Blog mobile friendly होना ज़रूरी है।

9. Internal Link

Post rank करने के लिए Internal Linking ज़रूर करें मतलब अपने Blog पोस्ट का लिंक अपने ही दूसरे Related पोस्ट में डाले। इससे Bounce कम होने में भी मदद मिलती है।

ये थे कुछ On-page seo के Important point।

Off-page Seo

Search engine में Rank करने के लिए सिर्फ On-page seo काफी नहीं हैं,  आपको Off-page Seo भी करना होगा।

अगर आपको Off-page Seo के बारे में पता नहीं तो आपको Off-page Seo के बारे में सीखना होगा और Off-page Seo की Practice करनी होगी।

Off-page Seo का Blog या Website के बहार काम होता हैं, जैसे अन्य Backlink बनना, Social media site पर अपने ब्लॉग का Profile बनाना नई-नई पोस्ट को Promote करना ताकि ज्यादा User आपकी वेबसाइट पर आए और आपके कंटेंट को पढ़े।

और भी कई तरह के काम Off-page Seo में होते हैं, जो हम जानेंगे।

Off-page Seo Blog की Search Engine में Rank Improve करने में अहम् भूमिका होती है। तो चलिए जानते है Off-page seo के Factor।

1. Backlinks

Backlinks Off-page Seo का सबसे महत्वपूर्ण Factor है। आपको अपने Blog की Post को अच्छे Position में Rank करवाना हैं, तो आपको High-quality Backlink बनना होगा।

2. Search Engine Submission

हमे अपने ब्लॉग या वेबसाइट को Search engine में Submit करना चाहिए ताकि Search engine को हमारे Website या Blog के बारे में पता चले और हमारे कंटेंट को Rank कराए।

3. Social Media Share 

अपने ब्लॉग या वेबसाइट को Social media पर Profile बनाना चाहिए और वहाँ पे Post को शेयर करने चाहिए। 

4. Infographic Submissions

आप अपने content में Infographic का इस्तेमाल कर सकते हैं, और Infographics को Infographics शेयरिंग साइट पर शेयर भी कर सकते है।

5. Question and Answer Sites

Q and A साइट पर Profile बनाना चाहिए और वहाँ पूछे जाने वाले सवालों के जवाब देने चाहिए लिंक शेयर करनी चाहिए। और सवाल पूछना चाहिए।

6. Photo Share करना

आप अपने ब्लॉग के कंटेंट की फोटो भी फोटो शेयरिंग साइट पर शेयर करना चाहिए। जैसे Pinterest हैं, इससे ट्रैफिक बढ़ने में मदद मिलती है।

7. Blog Commenting

अपने Blog या वेबसाइट से Related ब्लॉग या वेबसाइट  पर जाकर उनके पोस्ट में कमेंट करना चाहिए।

8. Guest Post

आप अपनी वेबसाइट से Related ब्लॉग पर जाकर Guest Post कर सकते है। Guest post से आपको Do follow backlink मिलती है साथ ही आपके Blog की Authority बढ़ाने में मदद मिलती है।

ये थे कुछ Off-page seo के Basic से Point जो आपको Off-page seo करते समय ध्यान में रखना  चाहिए।

Technical Seo 

Technical Seo से Search Engine को हमारे Blog या Website के बारे में पता चलता हैं, और Technical Seo करने से हमारे Website या Blog में कोई Issue आता हैं, तो हम उसे Sovle कर सकते है। 

और Technical Seo से Search Engine हमारे वेबसाइट या ब्लॉग के कंटेंट को आसानी से Crawl और Index करने में मदद मिलती है। तो जानते हैं, कुछ Technical Seo के Factores के बारे में।

1. Use SSL

अगर हमे अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को गूगल में अच्छी Position पर Rank करवाना हैं, तो हमे हमारे ब्लॉग या वेबसाइट पर HTTPS का इस्तेमाल करना चाहिए यह Secure होता है।

http://example.com ये Secure Url नहीं है।

https://example.com ये एक secure Url है।

2. Fix Duplicate Content Issues 

अगर आपके Blog कोई Duplicate content का Issue है तो उसे Fix करना चाहिए। Duplicate content से Crawl को आपका Content Crawling करने और Index करने में तक़लिब होती है।

3. Google Search Console and Bing Webmaster Tools

आपको अपने Blog Google search console में Submit करना चाहिए इससे Google को आपके Blog के बारे में पता चलता हैं, और Google आपके Blog के Post, pages को Crawl करता हैं, और Search engine में Show करता है। साथ ही Bing webmaster tool में भी अपनी Site submit करें।

4. Create XML Sitemap

XML Sitemap एक ऐसी फाइल है जो सर्च इंजन को आपकी वेबसाइट को समझने में मदद करती है। इससे सर्च इंजन को आपके प्रत्येक पेज की जानकारी मिलती है।

इसलिए Xml Sitemap ज़रूर बनाए। 

5. Robots txt

Robots txt file की मदद से हम Search engine के Bots को बताते हैं, की कौन सा पेज Crawl करना हैं और कौन सा Crawl नहीं करना हैं, इसकी मदद से हम Search engine के Bots को बताते हैं, की कौन सा  पेज Search index करवाना हैं, और कौन सा नहीं 

इसलिए Blog बनाने के बाद एक सही Robots txt file ज़रूर बनाए।

ये थे Technical Seo के कुछ Basic से Factor जो Technical Seo करते समय करना चाहिए।

Conclusion – निष्कर्ष

आशा करता हु की आपको What is Seo in Hindi एसईओ क्या हैं, और कैसे करते हैं, यह आपको पता चल गया होगा।

और आपको ये Article अच्छा लगा होगा साथ ही आपको Seo के Basic और Important factor  समझ आए होंगे।

अगर आपको ये आर्टिकल अच्छा लगा हो तो Comment करके ज़रूर बताए और इस Post संबंधित आपको कोई सवाल हो तो Comment करके ज़रूर पूछे।

Leave a Comment